Initiation of inner change center

इंटर्नशिप (अनिवार्य निवासी सेवा)

यह हमारा एक महत्‍वपूर्ण कार्यक्रम है। यह इंटर्नशिप कार्यक्रम स्नातक एवं स्नातकोत्तर कोर्स, स्नातकोत्तर डिप्लोमा पी एच डी आदि में अध्ययनरत छात्रों के लिए है। यह कार्यक्रम वर्ष में तीन नामों से 5 अलग अलग तिथियों अलग अलग अवधियों के लिए होगा।

इस कार्यक्रम के दौरान इंटर्न को सामाजिक विकास के कार्य करने का अवसर प्राप्‍त होगा साथ ही उसे जीने की कला एवं मानव व्यवहार प्राकृतिक रूप में समझने का अवसर भी प्राप्‍त होगा। वस्‍तुत: यह केन्‍द्र एवं इंटर्न दोनो के लिए परस्पर लाभदायक है। इसमें जहां इंटर्न को अनुभव प्राप्‍त होगा वहीं केन्‍द्र को इंटर्न की सेवाएँ प्राप्‍त होगी।

यह इंटर्नशिप छात्र को संक्षिप्त अनुसंधान कार्य या प्रोजेक्ट कार्य करने और केंद्र को अपने कार्यक्रमों के मूल्यांकन का अवसर भी देती है। यह छात्र को जीवन की बहु आयामी समझ, जीवन कौशल एवं क्षमता विकसित करने में भी सहायता देगी।

Initiation of inner change center

इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले युवकों को हम जीवन दर्शन विकसित करने में सहायता प्रदान करेंगे। इस दौरान इंटर्न को निम्नलिखित लाभ प्राप्त होगे :-

  • इंटर्न में मानवीय स्वभाव, संवेदना, व्यवहार, संबंध, आवश्यकताओं के संबंध में व्यावहारिक समझ विकसित होगी। वह इनका दैनंदिनी जीवन में महत्व भी समझेगा
  • इंटर्न को अपने विचार को फलीभूत करने की प्रक्रिया को जांचने और फलीभूत करने का अवसर प्राप्त होगा। सैद्धांतिक अवधारणाओं को व्यवहारिक वास्तविकताओं में बदलने में आने वाली बाधाओं और चुनौतियों को चिन्हित करेगा।
  • वह समझ सकेगा कि विचार और व्यवहार में क्या अंतर होता है।
  • बेहतर जीवन के लिए आवश्यक क्षमता उसमें विकसित होंगी।
  • ग्राम विकास के कार्यक्रमों एवं ग्रामीण विकास की सार्वजनिक नीति का ज्ञान होगा।
  • जिला कलेक्टर एवं जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ साथ राज्य शासन के वरिष्ठ अधिकारियों से मिलने, शिष्टाचार और व्यवहार का अवसर प्राप्त होगा। वह उनके अनुभव जानकार समझ सकेगा कि प्रशासन कैसे कार्य करता है।
  • कार्यशाला एवं संवाद सत्रों में भाग लेने का अवसर मिलेगा और समझ सकेगा नैतिकता एवं नैतिकतापूर्ण आचरण क्या है।
  • शासन की अनेक योजनाओं समझने एवं ग्राम स्तर पर योगदान देने का अवसर प्राप्त होगा।
  • एक ही समय एव सीमित साधनो में भिन्न प्राथमिकता वाले हितबध्द समूहों के साथ कार्य करने का अवसर प्राप्त होगा।

इंटर्न को आदिवासी बहुल चुने हुए जिले के चुने हुए गाँव में किसी ग्रामवासी के घर पेईंग गेस्ट के रूप में रहना होगा। केंद्र इसके लिए ग्रामवासियों से संपर्क करने में मदद करेगा। केंद्र ने जिला प्रशासन से संपर्क कर आवश्यक मदद का आश्वासन प्राप्त कर लिया है। जिला प्रशासन गांव में इंटर्नशिप की सुरक्षा का ध्यान रखेगा और उसे शासन की विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्राप्त करने में सहायता देगा।

पात्रता शर्तें

  • ग्रीष्मकालीन एवं शीतकालीन इंटर्नशिप पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु आवेदक का किसी भी राज्य, केंद्र अथवा अंतरराष्ट्रीय शैक्षिक संस्थान में स्नातक स्नातकोत्तर, स्नातकोत्तर डिप्लोमा अथवा पीएचडी कोर्स में मानव एवं सामाजिक विज्ञान तकनीकी यांत्रिकी या प्रबंधन के क्षेत्र में पंजीयन होना आवश्यक है। साथ ही उसका ग्रामीण विकास पर्यावरण संरक्षण प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन में भी लगाव होना चाहिए।
  • 6 माह के विशिष्ट इंटर्नशिपकार्यक्रम के आवेदक को किसी आईआईटी आई आई एम राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग अथवा प्रबंधन संस्थान अथवा किसी मान्यता प्राप्त प्रतिष्ठित सामाजिक विज्ञान एवं मानवीकीय विषय के संस्थान में पंजीयन होना चाहिए।
  • उसे एमएस ऑफिस, रिसर्च विधियों एवं सॉफ्टवेयर, जी आई एस टूल एवं डाटा एनालिसिस सॉफ्टवेयर आदि का सामान्य व्यवहारिक ज्ञान भी होना चाहिए।
  • सामान्य हिंदी एवं अंग्रेजी बोलचाल एवं लिखा पढ़ी का ज्ञान होना चाहिए।

इंटर्नशिप अवधि और स्टाइपेंड

  • ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप 10 सप्ताह की होगी। 10 सप्ताह की अवधि का निर्धारण 1 अप्रैल से 15 जुलाई के मध्य आवेदक की सुविधा अनुसार होगा।
  • शीतकालीन इंटर्नशिप 8 सप्ताह की होगी। 8 सप्ताह की अवधि का निर्धारण 1 अक्टूबर से 15 जनवरी के मध्य आवेदक की सुविधा अनुसार होगा।
  • विशिष्ट इंटर्नशिप कार्यक्रम की अवधि 6 माह होगी जो जनवरी अप्रैल या जुलाई में प्रारंभ होगी प्रत्येक अवधि के लिए एक सीट उपलब्ध होगी
  • ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन इंटर्नशिप के इंटर को प्रतिमाह ₹5000 का स्टायपेन्ड दिया जाएगा।
  • विशिष्ट इंटर को प्रतिमाह ₹15000 की स्टायपेनड एवं डिंडोरी में निशुल्क आवास व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी।
  • सभी प्रकार की राशियों का भुगतान इंटर के प्रमाणीकरण के पश्चात इलेक्ट्रॉनिकली एनईएफटी अथवा आरटीजीएस के माध्यम से किया जाएगा।
  • विशिष्ट परिस्थितियों में राशि का भुगतान चेक के माध्यम से इंटर को किया जा सकेगा। भुगतान के लिए बैंक खाते का विवरण निर्धारित अनुसार इंटर्न को देना होगा।
  • इंटर्नशिप के दौरान किसी भी प्रकार के चिकित्सा व्यय का भुगतान नहीं किया जाएगा।
  • इंटर को माह में अधिकतम 2 दिन के अवकाश प्राप्त होगा

इंटर्नशिप के दौरान सभी प्रकार की नागरिक व्यवहार संहिता लागू होगी।

आवेदन प्रक्रिया

  • इंटर्नशिप कार्यक्रम के लिए वर्ष भर आवेदन स्वीकार किए जायेंगे। इंटर्नशिप का वर्ष आवेदक द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित होने की बताई गई तिथि के आधार पर होगा।
  • इच्छुक आवेदक आइ ओ ई सी की वेबसाइट पर आन-लाइन आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।
  • आवेदन के साथ आवेदक को अपना फोटो, सी वी, शिक्षण संस्थान का अनुशंसा पत्र अपलोड करना होगा।
  • इंटर्नशिप के लिए प्राप्त समस्त आवेदनों का आई ओ आई सी द्वारा परीक्षण किया जाएगा और आवश्यकता अनुसार साक्षात्कार आयोजित किया जाएगा।
  • आई ओ आई सी की चयन समिति द्वारा चयनित उम्मीदवारों को इंटर्नशिप का प्रस्ताव भेजा जाएगा।
  • आई ओ आई सी में उपस्थिति देने के साथ ही इंटर्न को शैक्षिक संस्थान के अनुशंसा पत्र आइडेंटिटी कार्ड आधार कार्ड और बैंक का परिशिष्ट तीन अनुसार विवरण मूल रूप में देना होगा।

इंटर्नशिप असाइनमेंट का स्वरूप

  • इंटर्न को 5 दिवसीय अंतर्निरीक्षण सत्र में भाग लेना होगा। इस सत्र में जिम्मेदारी, संवाद, दैनिक जीवन की अव्यवस्थाओं संबंध, डर, सुख, इचछा, प्रेम, मृत्यु और जीवन पर संवाद होगा।
  • इंटर्न को उसके लिए चिन्हित ग्राम में किसी ग्रामवासी के घर में पेईंग गेस्ट के रूप में रहना होगा।
  • ग्राम में रहते हुए उसे ग्राम वासियों के आपसी संबंधों को समझना और केंद्र के प्रशिक्षक के मार्गदर्शन में ग्राम वासियों के साथ कार्य करना एवं ग्राम में सौहार्द एवं सहकार का वातावरण तैयार करना
  • ग्राम में सोहार्दपूर्ण एवं सहकार का वातावरण निर्माण के लिए उसे ग्राम में स्वावलोकन सत्र आयोजित करना होगा।
  • ग्राम में उपलब्ध संसाधनों का चिन्हांकन करना
  • ग्राम वासियों की आकांक्षाओं के अनुरूप उनसे संवाद कर, ग्राम विकास का, उपलब्ध संसाधनों में प्लान तैयार करना होगा
  • ग्राम विकास के माप योग्य कार्य करना ताकि ग्राम वासियों से स्थाई संबंध बने और उन्हें इंटर्न की उपयोगिता महसूस हो।
  • उसे प्रत्येक पखवाड़े में अपनी गतिविधियों की प्रस्तुति करना होगी इसके माध्यम से की विभिन्न प्रकार की क्षमताओं का विकास होगा। उसमें सामान्य नागरिकों के समक्ष अपने विचार रखने की क्षमता विकसित कराई जाएगी।
  • प्रशासनिक एवं अन्य व्यवस्थाओं को समझने के बाद समस्याओं की शिकायत करने के बजाय उनके निराकरण का प्रयास करना
  • स्वास्थ्य शिक्षा कौशल विकास महिला बाल विकास जैसे विभागों की गतिविधियों को देखना और अधिकारियों से संवाद करना
  • ग्रामीण विकास और प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन पर आधारित लघु परियोजनाओं एवं लघु शोध कार्यों को प्राप्त करना और उन पर कार्यवाही करना
  • इंटर्न को सेवारत और सेवानिवृत्त वरिष्ठ अधिकारियों से परिचर्चाओं का अवसर दिया जाएगा।
  • केंद्र के प्रचलित कार्यक्रमों से इंटर्न को उसके कौशल एवं क्षमता के साथ समायोजित कर परियोजनाएं दी जाएगी।
  • विशिष्ट इंटर्नशिप कार्यक्रम के इंटर्न को लघु अनुसंधान/ परियोजना के साथ ही दो मंगल ग्राम में कार्य करना होगा।

इंटर्नशिप के महत्वपूर्ण तथ्य

आई ओ आई सी में इंटर्नशिप के दौरान इंटर्न की पहुंच क्लासिफाइड जानकारियों तक हो सकती है इस जानकारी न तो बिना अनुमति के उपयोग करना चाहिए और न ही इस जानकारी को किसी अन्य व्यक्ति से साझा करना चाहिए।

लघु शोध कार्यों के दौरान संकलित जानकारी और परिणाम बौद्धिक संपदा है जिस पर शोध लिखने वाले लेखकों एवं सह-लेखकों का कापी राईट है परंतु संकलित जानकारी एवं परिणामों के उपयोग करने का अधिकार संस्थान को भी बराबरी से रहेगा।

यह इंटर्नशिप कार्य समाप्त होने के बाद, इंटर्न को आई ओ आई सी में कार्य प्राप्त करने या करने का कोई अधिकार नहीं देती है।

लॉजिस्टिक और सहायता

इंटर्न को अपना लैपटॉप लाना होगा

उसे गांव में रहने का इंतजाम स्वयं करना होगा। केंद्र गांव में उसके रहने की व्यवस्था में सहायता प्रदान करेगा।

केन्द्र के कार्यालय में वाई फाई एवं अन्य सामान्य सुविधाएं/संसाधन एवं उपयुक्त कार्य स्थान उपलब्ध कराया जाएगा।

इंटर्नशिप प्रमाण पत्र और टेस्टिमोनियल

इंटर्नशिप सफलतापूर्वक पूर्ण करने के पश्चात आई ओ आई सी के पदाधिकारियों और संबंधित मेंटर के संयुक्त हस्ताक्षर से प्रमाण पत्र दिया जाएगा ।

इंटरनेट द्वारा किए गए कार्यों के अभिषेक एवं टेस्टिमोनियल विभाग की वेबसाइट पर प्रदर्शित किए जाएंगे।

Apply for summer internship 2020, till 31st March 2020 link for form and detail of internship.

इंटर्नशिप प्रमाणपत्र

आई ओ आई सी(IOIC) इंटर्नशिप के सफल समापन पर, आई ओ आई सी(IOIC) के पदाधिकारी और संबंधित संरक्षक द्वारा संयुक्त रूप से हस्ताक्षर किए गए इंटर्न को एक प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।

आवेदन करें

प्रशंसापत्र

"मेरा नाम चिरंजीव किशोर, वर्तमान में एक्सपोर्ट इम्पोर्ट बैंक ऑफ़ इंडिया में काम कर रहा है। श्री मनोहर दुबे सर मेरे समर इंटर्नशिप प्रोजेक्ट के लिए मेरे मार्गदर्शक और संरक्षक थे, जिसका शीर्षक था "मध्य प्रदेश में व्यापार करने में आसानी"।

मैं बेहद भाग्यशाली महसूस करता हूं कि मुझे उनके जैसा गुरु मिला, जिसने मुझे वास्तविक दुनिया में सैद्धांतिक व्यावसायिक अवधारणाओं को सीखने और लागू करने का अवसर प्रदान किया। इंटर्नशिप के दौरान, उन्होंने मुझे भोपाल के साथ-साथ इंदौर में विभिन्न हितधारकों से मिलने के लिए सभी आवश्यक सहायता प्रदान की, ताकि मुझे अपनी ग्रीष्मकालीन परियोजना को पूरा करने में मदद मिले। अपने व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद, जब भी मैं आगे बढ़ने के बारे में उनसे सलाह लेता, तो श्रीमान हमेशा मार्गदर्शन करते थे। उनके मार्गदर्शन ने मुझे किसी समस्या के लिए 360° दृष्टिकोण विकसित करने में मदद की।

मैं उनके द्वारा प्रदान किए गए मार्गदर्शन और सलाह के लिए बहुत आभारी हूं, जिसने मुझे भोपाल में अपनी इंटर्नशिप परियोजना को पूरा करने में सक्षम बनाया।

उनके आदर्शों ने मुझे देश के लिए अपना योगदान देने के लिए प्रेरित किया। मैं अपने प्रारंभिक वर्षों में ऐसा सक्षम गुरु पाने के लिए आभारी हूं, जिसे मैं हमेशा संजोता रहूंगा!

बहुत बहुत धन्यवाद सर!!!"